• ये खयाल आते ही कि हम किसी नई जगह जाने वाले हैं हमें रोमांचित कर देता है, जिन जगहों या जिन बातों के बारे में सिर्फ सुना है या पढा है उसको खुद महसूस करने का एहसास आपको नई ऊर्जा से भर देता है।जब मैने अंडमान द्वीप समूह जाने का सोचा तो मैं उत्साहित तो था पर कन्फ्यूज भी हो गया था कि क्या कैसे करना है, नेट पर काफी रिसर्च करने पर मैने अपना पूरा ट्रैवल प्लान कर लिया जो मेरे हिसाब से काफी सफल रहा।उस जगह में बीता हर पल हमें आज भी याद आता है और जीवन भर हमेशा साथ रहेंगी।

  • चलिये बात करते हैं कि हमने प्लान कैसे किया,क्या वहां देखा,, कहाँ कहाँ गये, क्या खाया क्या अच्छा लगा और क्या खराब और साथ ही यह भी बताते हैं कि क्या नहीं किया या नहीं कर पाये जो आप कर सकते हैं यहाँ पढकर।अब उन खास पहलुओं पर बात कर लेते हैं जिनका ध्यान प्लेनिंग करते समय करना सही रहता है।
  • यात्रा करने का सही मौसम-अगर पीक सीजन की बात करे तो 15 दिसंबर से 15 जनवरी तक का सीजन पीक सीजन रहता है पर इस अवधि में पैकेज के दाम भी ज्यादा वसूले जाते हैं, पीक सीजन से 15 दिन पहले जाना सबसे बेहतर रहेगा। इसके अतिरिक्त नवंबर से फरवरी तक का समय सही माना जाता है। बाकी 8 महीनों में वहाँ जाने की सोचना भी नहीं चाहिए क्योंकि उमस और गर्मी के कारण किसी की भी हालत खराब हो सकती है।
  • यात्रा की अवधि – अंडमान जैसी खूबसूरत जगह के लिए कितने भी दिन हो कम पड़ जायेंगे पर शायद जेब जवाब दे दे, इसलिए मेरे हिसाब से 5 दिन से कम का टूर का कोई फायदा नहीं होगा, 6-7 दिन का टूर आदर्श रहेगा। वैसे कितने भी कम दिन या ज्यादा दिन आप यहां रह लो वापसी के समय यही खयाल आता है कि काश यही रूक जाते।
  • बुकिंग कैसे करें –गूगल करने पर ये तो समझ आ गया कि अन्डमान जैसे टूरिस्ट प्लेस की पूरी प्लानिंग आप खुद से नहीं कर सकते, आपको एक ट्रेवल एजेंट / कंपनी की सहायता लेनी पड़ेगी।कारण मैं बताता हूँ, अंडमान में आपको कम से कम 5 नाइट्स का टूर बनाना होगा जिसमें आपको पोर्ट ब्लेयर, हैवलाक व नील द्वीप समूह पर स्टे करना होगा,यहा द्वीपों पर आना जाना फेरी से होता है जिनकी बुकिंग एडवांस में करना सही रहता है इसके साथ साथ वहां पर रहने की व्यवस्था व आना जाना इन सभी बातों को वहां का लोकल ट्रेवल एजेंट अच्छी तरह से संभाल लेते हैं, मैने experienceandaman.com पर सारी बुकिंग की, मेरी बात कंपनी की executive दिव्या से हुई जिनसे कई बार बात करने पर मैने 5 दिन का टूर पैकेज लिया ज्यादातर बातें ईमेल से होती थी अंडमान में नेटवर्क वीक रहता है इसलिये मोबाइल पर बात ठीक से नहीं हो पाती।मुझे अन्य एजेंट्स का नहीं पता पर इस कंपनी का कहना सकता हूं कि पैकेज का पूरी रकम ये वसूल करा देती है अपनी सर्विस से। औरेंज कलर की टी – शर्ट में ये लोग दूर से ही दिखाई दे जाते हैं।
  • यात्रा के लिये अतिरिक्त तैयारी – अंडमान द्वीप समूह पर इंटरनेट काम नहीं करता इसलिये इंटरनेट से संबंधित सभी कार्य कोलकाता या चेन्नई एअरपोर्ट से ही कर लें, जहां से भी फ्लाइट हो।किसी भी तरह का आनलाइन पेमेंट पहले ही कर लें। हर दिन के हिसाब से लगभग 5000 कैश रखें ताकि किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े। पोर्ट ब्लेयर पर आपको एक दो नेट कैफे व एटीएम मिल जायेंगे पर अन्य द्वीपों पर इसकी उम्मीद न करें।वैसे इंटरनेट ना होने का एक बहुत बड़ा फायदा यह होता है कि आप मोबाइल फोन से दूर रहते है, अपनों के साथ ज्यादा समय बिताते हैं और ये लगता है कि समय रुख साफ गया है और आप यहां काफी समय से हैं। साथ में सन ग्लास, छाता, सन्स क्रीम, हैट रखना बहुत जरूरी है।
  • कैसे एन्जॉय करें- अगर कोई पैकेज लिया है तो ज्यादा चिन्ता नहीं करना पड़ेगा, फिर भी अगर नहीं लिया तो लोकल घूमने के लिये एक्टिवा रेंट पर लिया जा सकता है 500-600 में 24 घन्टे तक के लिए रेंट पर मिल जाता है, इसके अलावा फेरी या cruze की बुकिंग भी पहले से करा लें, एक बैकपैक हमेशा तैयार रखें छोटे कपड़ों के साथ, BSNL का सिम है तो बेहतर होगा, और हाँ ज्यादा रात में यहां कुछ नहीं होता है गोवा की तरह।हां सुबह जल्दी उठकर आप कुछ यादगार पल समेट सकते हैं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s